मेरे प्रश्न

मेरे प्रश्न
ये मेरे प्रश्न हैं, ये मेरे प्रश्न हैं.
इतने ऊँचे पर्वत किसने हैं बनाए ?
इतने गहरे सागर किसने हैं बनाए ?
किसने धरती पर सोने सी रेत बिखेरी ?
किसने हवाओं में सुंगध बिखेरी ?
किसने समंदर की लहरों को रंग दिया ?
किसने आसमान में नीला रंग किया ?
किसने सूरज को सुबह सुबह बुलाया ?
अंधेरी रात में किसने तारों को चमकाया ?
रात में जुगनु किसने चमकाए ?
सुबह को पंछी किसने चहकाए ?
फूलों में इतने रंग किसने महकाए ?
तरह तरह के पंछी आसमान में किसने हैं उड़ाए ?
चाँद को कौन करता है कभी बड़ा, कभी छोटा ?
तारों को भी क्या उसने ही बनाया है बड़ा और छोटा ?
इतने ऊँचे पहाड़ो पर कौन लेकर गया इतनी बर्फ ?
काले मेघों को किसने दी सफेद जल धारा ?
कौन देगा मेरे सवालों का जवाब ?
ये मेरे प्रश्न हैं ये मेरे प्रश्न हैं

किरन संजीव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *