सर्दियों में रखें त्वचा को खिली खिली

आपकी त्वचा की प्राकृतिक खूबसूरती और रंगत बनाए रखने के लिए कुछ टिप्स दे रहे हैं डर्मेटोलोजिस्ट डॉ. योगेश पटेल.

सर्दियों के मौसम का सर्वाधिक असर होता है त्वचा पर. इन दिनों वातावरण में नमी की कमी का असर त्वचा पर भी पड़ता है जिससे त्वचा शुष्क और बेजान हो जाती है. वह अपनी चमक खो बठती है. त्वचा को सर्दी के मौसम में चमकदार व कांतिवान बनाए रखने के लिए विशेष देखभाल की जरूरत पड़ती है. सर्दियों में भी आपकी त्वचा रहे खिली खिली और खूबसूरत इस के लिए अजमाएं इन टिप्स को-

खुराक का रखें ध्यान

सर्दी के मौसम में सब्जियां बहुतायत से आती हैं अपने भोजन में हरी सब्जियां और गाजर का प्रयोग बढाएं. संतुलित और विटामिन से भरपूर भोजन त्वचा की चमक बनाए रखता है.

त्वचा को धूप से बचाएं

सनस्क्रीन क्रीम की आवश्यकता सिर्फ गर्मी में धूप से बचाव के लिए ही नहीं वरन सर्दी के मौसम में भी ये अतिआवश्यक हैं. सर्दी की धूप भी त्वचा को नुकसान पहुंचाती हैं इसलिए घर से बाहर निकलने से पहले 25 एसपीएफ वाली सनस्क्रीन क्रीम का प्रयोग अवश्य करें.

आंखों की त्वचा की देखभाल.

सर्दी के मौसम में आंखों के नीचे काले घेरे हो जाते हैं. इन्हें कम करने के लिए क्रीम का प्रयोग करें, पानी खूब पीएं. काले घेरों को छिपाने के लिए लाइट डिफ्यूजिंग क्रीम कंसीलर का भी प्रयोग कर सकती हैं.

नमी बनाए रखें.

सर्दी के मौसम में त्वचा पर वाटर बेज़ मॉइश्चराइजर का प्रयोग न करें. इस मौसम में ऑयल बेज़ मॉइश्चराइजर का प्रयोग करें. यह त्वचा पर रक्षात्मक कवच बनाïता है. ये किसी भी क्रीम या लोशन से ज्यादा नमी बनाए रखने में सहायता करता है. इस के अलावा बादाम का तेल सर्दियों में त्वचा के लिए बेहतर रहता है. यह त्वचा के रोमछिद्रों को बंद करे बिना त्वचा की नमी को बनाए रखता है.

होठों की देखभाल

सर्दी के मौसम में होठं सूख जाते हैं और उन पर पपडिय़ां आ जाती हैं. इसके लिए सोने से पहले होठों पर ग्लिसरीन और गुलाबजल का मिश्रण लगाएं, इससे होठ न केवल नरम रहेंगे वरन गुलाबी भी बने रहेंगे.

फटी एडिय़ां.

ठंड के समय में सबसे ज्यादा खराब होती है एडिय़ां. खास तौर पर शुष्क त्वचा वाले लोगों की एडिय़ों से तो खून भी रिसने लगता है. इसके लिए कुनकुने पानी में जोजीबा ऑयल की कुछ बूंदें डालें और उसमें 15-20 मिनट तक पैरों को रखें. इसके बाद प्यूमिक स्टोन से मृत त्वचा को साफ करें. पानी से बाहर निकालने के बाद पैरों को अच्छी तरह सुखाएं और सोने से पूर्व उन पर कुनकुने तेल या वैसलीन से मसाज करें. इसके बाद पैरों में मोजे पहन लें (मोजे सूती होने चाहिए और ढीले भीï). सुबह सबसे पहले पैरों से चिकनाई साफ करें.

गरम पानी से बचाव

अमूमन सर्दी के मौसम में लोग नहाने के लिए गर्म पानी का प्रयोग करते हैं. कोशिश करें कि पानी न ज्यादा ठंडा हो न गर्म. सामान्य तापक्रम के पानी को नहाने में प्रयोग करें. हल्का कुनकुना पानी भी नहाने के लिए सर्दी के मौसम में अच्छा रहता है. नहाने के पश्चात मॉइश्चराइजर का प्रयोग जरूर करें. त्वचा की खोई नमी लौटाने के लिए सप्ताह में एक बार क्रीम आधारित मॉस्क का प्रयोग अवश्य करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *