शूल और पंखुडिय़ाँ

शूल और पंखुडिय़ाँ 

महक की प्राथमिकता पूरे परिवार कोï स्वस्थ एवं ज्ञानवर्धक मनोरंजन प्रदान करना है.महक सदैव अपने पाठकों को आत्मविश्वास के साथ जीवन में आगे बढऩे के लिए प्रेरित करती रहेगी, साथ ही नई पीढ़ी को अपनी परंपराओ से जोड़े रखने में परिवार की सहायता करेगी.

महक में आपके पूरे परिवार के मनोरंजन के लिए अनेक सामग्री उपलब्ध होंगी. विभिन्न क्षेत्रों की जानकारियों के साथ रोचक एवं शिक्षाप्रद कहानियां भी होंगी. आपकी अपनी बातें होंगी, रसोई और फैशन के साथ सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक मुद्दों पर भी चर्चा होंगी. साथ ही बच्चों के लिए महक हर बार रोचक कहानियों के साथ एक नया पन्ना भी लेकर आएगी. रुढि़वादिताओं को तोडक़र नए वैज्ञानिक दृष्टिकोण का विकास समाज के हर आयु, वर्ग में करना महक के उद्देश्यों में से एक होगा.
महक का शूल और पंखुडिय़ां स्तम्भ पूरी तरह महक के पाठकों के विचारों के लिए है. महक का प्रस्तुत अंक आपको कैसा लगा? इसकी खूबियां ही नहीं, वरन कमियां भी आप बेहिचक हमें लिख भेज सकते हैं साथ ही आप महक के आगामी अंकों में क्या सामग्री पढऩा चाहते हंै? अथवा कुछ नया प्रयोग आप महक टीम की तरफ से चाहते हैं तो हमें लिख भेजिए. आपके पत्रों का स्वागत होगा, आपके सुझावों पर विचार किया जाएगा. चयनित पत्र यहां प्रकाशित किए जाएंगे.
अपनी प्रतिक्रिया इस पते पर लिख भेजें..
महक संपादकीय विभाग, बी- गुरूकृपा बिल्डिंग, बजेमेंट ,बैंक ऑफ बड़ौदा के पास, रांदेर रोड, सूरत. गुजरात एसएमएस से अपनी राय 7574860097 पर भेजें. आप चाहें तो दिए गए नंबरों पर फोन कर सकते है . आप ई-मेल भी कर सकते है. हमारा ई-मेल पता है..

mahaksurat@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *