महक रिश्तों की

हमारा एक कोचिंग इंस्टिट्यूट है वंहा सफाई का काम करने एक काम वाली रोज़ आती है उसे लेने और छोड़ने उसका पति रोज़ आता था एक दिन मैंने उससे कहा ” क्यों रूपेश , तुम तो अपनी घरवाली का बड़ा ख्याल रखते हो ” इस पर वह शरमाते हुए बोला” मैडमजी, मैं इस का ख्याल नहीं रखूँगा तो और कौन रखेगा, यह अपने माता पिता को छोड़कर अनजान जगह , अनजान घर में मेरे भरोसे ही तो आई है एक अनपढ़ व्यक्ति की यह बात मेरे मन को छू गयी, मैं सोच में डूब गयी आज के आधुनिक पढ़ेलिखे पति तक इतनी सी बात नहीं समझते

हैं अगर हर पति यह बात समझने लगे तो किसी भी माता पिता को अपनी बेटी की विदाई के बाद उसकी चिंता नहीं सताएगी।

——–

मेरी नयी नयी शादी हुई थी एक दिन में सबको खाना खिला रही थी , मेज़ पर मेरे सास ससुर ननद और पति बैठे हुए थे मैं अकेली ही खाना बना भी रही थी और परस भी रही थी. गरम पूरियां बेलने -तलने में तेल ज्यादा गरम हो गया जिससे पूरी थोड़ी करारी हो गईं, जो की मेरे ससुरजी को ज्यादा पसंद थी इसलिए वो दोनों मैने उन्हें दे दीं. जैसे ही मैने दूसरी पूरी ससुरजी की थाली में रखी मेरी ननद ने अपनी खाने की थाली उठाकर फैंक दी और जोर जोर से रो रोकर मेरे पति से कहने लगीं भइया , भाभी तेरे आगे ही काम करती है पीछे नहीं। मैं आशचर्य से उनको देखती रह गयी उनकी आयु उस समय अट्ठाईस वर्ष की थी ऐसा व्यवहार किसी भी तरह से मधुर रिश्तों की नींव नहीं डालने देता है
………………………………………………………….

मेरे मायके के सामने वाले घर में एक पंजाबी परिवार रहता है उनके बड़े बेटे की शादी होने पर उनका अपने बेटे के जीवन में दखल विवाह पूर्व की तरह से ही बना रहा कब जाएगा , क्या कहेगा ,क्या पहनेगा , क्या और कँहा कितना खर्च करेगा, पत्नी का काम बस घर के काम करने जितना ही था नतीज़ा धीरे- धीरे शुरू हुई अनबन से तलाक तक पहुँच गया , लकिन मातापिता ने रिश्ते को जोड़ने की जगह बेटे को ये कहकर कि लड़की की गलती है , बहुत मिल जाएंगी तलाक के लिए बेटे को प्रोत्साहित किया। तलाक होने पर लड़की के परिवार वालों ने जंहा लड़के की बड़ी बहन की शादी हुई थी इस परिवार की इतनी बुराई की की बहन का रिश्ता टूट गया और लड़के की छोटी बहन की शादी की जहाँ भी बात चलती वे पहले ही इस परिवार की बुराई कर देते जिससे रिश्ता नहीं हो पाता। आज उस घर में तलाकशुदा एक लड़का और एक लड़की के साथ एक अविवाहित उम्रदराज लड़की मौजूद है घर पूरी तरह अव्यवस्थित हो चुका है उनके माता पिता की भी मृत्यु हो चुकी है दोनों परिवारों की थोड़ी सी नासमझी ने कई ज़िंदगियाँ बर्बाद करके रख दी हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *