बारिश में त्वचा का निखार बरकरार


बारिश के मौसम का इन्तजार केवल किसान को ही नहीं वरन सभी को होता है. ये मौसम होता ही इतना सुहाना और खूबसूरत है कि सभी को लुभाता है. आसमान में छाए बादल  गर्मी की चिलचिलाती धूप से राहत देते हैं और बरसती हुई बूँदें खुशनुमा अहसास. इस मौसम में हमारी त्वचा भी राहत महसूस करती है उसे सन बर्न , टैनिंग  आदि से निजात जो मिल जाती है और वह तरोताज़ा हो उठती है लेकिन कहीं बारिश के मौसम की नमी और चिपचिपाहट आपकी त्वचा की रौनक न छीन ले इसलिए अपनी त्वचा का ख़ास ख्याल रखें और बारिश में त्वचा का निखार बरकरार रखें. बारिश में त्वचा का निखार बरकरार रखने के लिए कुछ ख़ास बातें .

बारिश में होने वाली मुख्य समस्या

  बारिश के सीज़न में नमी के कारण स्किन इन्फेक्शन जैसे फंगल और बैक्टीरियल इन्फेक्शंस बहुत आम हो जाते हैं. कई बार बारिश के पानी से पैरों की अँगुलियों में भी फंगल इन्फेक्शन हो जाते हैं ऐसा होने पर इन जगहों को अच्छी तरह से सुखाकर वहाँ तेल लगाएं और डॉक्टर को दिखाकर सलाह लें .

डाइट

बारिश के सीज़न में त्वचा की सही देखभाल में आपकी डाइट का बड़ा रोल होता है इन दिनों बाहर का खाना विशेष तौर पर ठेलों और लारी पर मिलने वाला , खुला खाना बिलकुल भी न खाएं. बारिश की वजह से चारों ओर मक्खी मच्छर और तरह तरह के कीटाणु हो जाते हैं जो कि खुले में बनने वाली खाद्य सामग्री पर बैठते हैं और स्वास्थ्य के साथ साथ तैलीय होने के कारण त्वचा के लिए भी नुकसानदेह होते हैं. त्वचा को चमकदार और हेल्थी रखने के लिए बैलेंस डाइट का प्रयोग करें.

टमाटर का प्रयोग

हालाँकि इन दिनों में टमाटर बहुत महंगे होते हैं लेकिन त्वचा पर इनका प्रयोग त्वचा को निखारने में बहुत काम आता है. इसके लिए एक टमाटर लें उसका रसीला भाग या गूदा निकालकर चेहरे पर लगाएं थोड़ी देर के लिए इसे सूखने के लिए छोड़ दें. कुछ देर बाद चेहरे  को धो लें.  त्वचा निश्चित तौर पर पहले से बेहतर नज़र आएगी.


बनाना फेस पैक का प्रयोग करें


बारिश में त्वचा पर केले का प्रयोग त्वचा में जबरदस्त निखार लाता है इसके लिए एक पका हुआ केला लें. उसे मैश करें उसमें थोड़ा नीबूं और शहद मिलाएं इसे अपने चहरे पर लगाएं जब यह सूख जाए तो इसे धो लें. यह पैक आपको बारिश की नमी से होने वाले इन्फेक्शन्स से बचाएगा.

टोनिंग
इन दिनों चहरे को सिर्फ साबुन या फेसवॉश से धोना ही पर्याप्त नहीं  होता है अपनी त्वचा को टोन करें. इसके लिए एक अच्छी क़्वालिटी का टोनर लें और उसे कॉटन बॉल से चेहरे और गर्दन पर लगाएं इससे आपकी त्वचा के छिद्र खुलेंगे और आपकी स्किन ज्यादा मॉइस्चर हो जायगी, इससे आपको स्वयं अंतर महसूस होगा.

एंटीसेप्टिक का प्रयोग

बारिश में होने वाली खुजली या छोटी मोटी त्वचा सम्बन्धी बीमारी से बचने के लिए नहाने के पानी में किसी भी अच्छे एंटीसेप्टिक लोशन की कुछ बूँदें डालें. इससे नहाने के बाद तरोताज़ा तो महसूस करेंगे ही साथ ही त्वचा सम्बन्धी छोटी मोटी बीमारियों से बच सकते हैं.

एलोविरा जेल का प्रयोग

त्वचा ही नहीं बल्कि पूरे शरीर को बारिश से होने वाले संक्रमणों से बचाने और शरीर से आने वाली चिपचिपाहट की बदबू को हटाने में एलोविरा जेल बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. इसे नहाने या मुंह हाथ धोने वाले पानी में डालिये तुरंत ही आप अपने शरीर को ताज़ा और बदबू रहित महसूस करेंगे.

बारिश में त्वचा का निखार बरकरार रखकर यदि आप बारिश में भीगेंगी तो बारिश के मौसम का मज़ा उठा सकेंगी. इन कुछ बातों का ख्याल रखिए ,बारिश में त्वचा का निखार बरकरार रखें और बारिश का खूब लुत्फ़ उठाइए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *