ओशीन मित्तल (स्विमिंग स्टार)

लड़कियां जीवन के हर क्षेत्र में अपनी सफलता के झंडे गाड़ सकती हैं ये निर्विवाद तथ्य है. ओशीन मित्तल जो कि र्लुडस कॉन्वेंट की छात्रा हैं उन्होंने मात्र १२ वर्ष की उम्र में ही एक ऐसे क्षेत्र में अपना स्थान बनाया है जिसमें ताकत, फुर्ती और बुद्घि का सांमजस्य होता है वो है तैराकी. विभिन्न तैराकी स्पर्धाओं में भाग लेने वाली ओशीन मित्तल सन २०१५ में फरवरी माह में आयोजित राष्ट्रीय स्कूल चैम्पियनशिप में गुजरात का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं अनेक पदकों और टॅ्राफियों की विजेता ओशीन ने राज्यस्तर पर होने वाली राज्य स्तरीय स्कूल चैम्पिनशिप तैराकी स्पर्धा २०१४ में ५० मीटर एवं १०० मीटर फ्रीस्टाइल में, ५० मीटर बैक स्ट्रोक में प्रथम स्थान प्राप्त किया था. साथ ही ४ गुणा १०० मीटर फ्रीस्टाइल रिले, ४ गुणा १०० मीटर मिडले रिले में भी प्रथम स्थान प्राप्त किया था. इसी तरह गुजरात सरकार द्वारा आयोजित खेल महाकुंभ में भी उन्होंने १०० मीटर फ्रीस्टाइल, २०० मीटर आईएम ४०० मीटर फ्रीस्टाइल रिले, ४०० मीटर मिडले रिले एवं १०० मीटर में प्रथम स्थान प्राप्त कर स्वर्ण पदक जीते. ढेरों जिला स्तरीय एवं राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में भाग लेकर पदकों को अपने नाम करने वाली ओशीन इसका श्रेय अपने कोच प्रकाश सारंग को देती हैं. खेल के साथ साथ पढ़ाई में भी आगे रहने वाली ओशीन बहुमुखी प्रतिभा की धनी हैं. उसे चित्रकारी और संगीत में रूचि है वह नाटकों की स्क्रिप्ट भी लिखती हैं उसने विद्यालय की प्रतियोगिताओं में भाग लिया है. उसने चित्रकारी में भी जिला स्तरीय स्पर्धा में प्रथम स्थान प्राप्त किया हैं.

५ फुट ९ इंच कद की ओशीन को खाली समय किताबें पढ़कर या केसियो बजाकर बिताना पसंद है. उन्हें झूठ बोलने से सख्त नफरत है वे जीवन को सत्य और मूल्यों के साथ बिताना पसंद करती है. उच्च नैतिक मूल्यों में विश्वास रखने वाली ओशीन मित्तल अपने छोटे भाई से बहुत प्यार करती हैं. उनकी मां विश्वविद्यालय में शिक्षक के साथ साथ एक लेखिका भी हैं और उनके पिता का अंतरराष्ट्रीय गुणवत्ता मानदंडों के परामर्श का व्यवसाय है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *