अपने गहरे समुद्रों और घने जंगलों की वजह से जाना जाने वाला दक्षिण अफ्रीका

अपने गहरे समुद्रों और घने जंगलों की वजह से जाना जाने वाला दक्षिण अफ्रीका भारतीयों में वंहा होने वाले क्रिकेट मैचों के लिए काफी लोकप्रिय है प्रस्तुत है स्मिता सोमानी की दक्षिण अफ्रीका यात्रा संस्मरण–

मूल रूप से हम लोग राजस्थान के भीलवाड़ा जिले के रहने वाले हैं, पिछले कई वर्षों से सूरत में रहते हैं मेरे पति —सोमानी यहाँ चार्टेड अकाउंटेंट हैं काफी वर्ष पूर्व हमारा सूरत के इस्कॉन समूह से जुड़ना हुआ. आज हम लोग पूरी तरह से इससे जुड़कर भगवद सेवा को अपने जीवन के उद्देश्यों में जोड़ चुके हैं इसी सिलसिले में वर्ष २०१४ में हमारा दक्षिण अफ्रीका जाना हुआ. इस यादगार यात्रा की शुरुआत ११ सितंबर २०१४ को हुई. हम २३ लोगों का समूह इस्कॉन द्वारा आयोजित प्रभुपाद के जन्मदिवस समारोह में शामिल होने के लिए मुंबई के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से जोहांसबर्ग के लिए रवाना हुआ. 

 यंहा नयनशा नामक रिसोर्ट में दो दिनों के लिए रुके.यंहा प्राकृतिक सौंदर्य चारों और बिखरा हुआ था अरब सागर को नज़दीक से निहारने का अवसर मिला, व्हेल मछली को नजदीक से देखना एक रोमांचक दृश्य था वह अपने बच्चों के साथ खेल रही थी . इसके बाद हम डरबन गए यहाँ पर पोर्ट एलिज़ाबेथ भी देखा ,यहाँ खरीददारी भी की यहाँ की सबसे अच्छी बात थी पूर्ण शाकाहारी भारतीय भोजन की उपलब्धता. किसी भी भारतीय को भोजन को लेकर कोई परेशानी नहीं हुई, यहाँ के लोग काफी मिलनसार हैं पोर्ट एलिज़ाबेथ पर घूमते हुए हम वहां बैठकर ईश्वर का ध्यान करते हुए भजन करने लगे ये देखकर जो लोग वहां समुद्र स्नान का मज़ा ले रहे थे वे भी हमारे साथ जुड़कर प्रभु कीर्तन करने लगे १९ सितंबर से २१ सितंबर तक ” भागवतम” का सेमिनार था. डरबन में हम उशका मेरिन वर्ल्ड भी गए वहाँ काफी तरह की राइड्स थीं जिनका हमने आनंद उठाया यहाँ का डॉल्फिन शो काफी खूबसूरत था, हमने उसका लुत्फ़ भी उठाया.डरबन के समुद्रों का पानी भारतीय समुद्रों की तुलना में शांत था. अंत में हमने कर्ज़न नेशनल पार्क भी घूमा और जंगल सफारी का भी आनंद उठाया.

बारह दिनों का दक्षिण अफ्रीका का ये सफर काफी रंगों से भरा हुआ था एक तरफ समुद्र थे तो एक तरफ जंगल यह रोमांचक सफर अविस्मरणीय था. जोहांसबर्ग से मुंबई होते हुए हम सूरत आ गए अपने साथ इस खूबसूरत सफर की यादों को संजोए हुए.


स्मिता सोमानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *